News India Express
जालौन

हमारा देश कृषि प्रधान देश है: कमलाकांत वर्मा

अनुराग श्रीवास्तव ,बबलू सेंगर
जालौन (उरई)। मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण किसान परेशान हैं। एक तरफ सरकार की दोषपूर्ण नीतियां है तो दूसरी तरफ प्राकृतिक आपदाये जिसके कारण किसान परेशान हैं यह बात कोंच मार्ग पर आयोजित किसान मजदूर एकता दिवस पर आयोजित बैठक में बोलते हुए किसान सभा के जिला प्रभारी कमलाकांत वर्मा ने कही।
उत्तर प्रदेश किसान सभा के तत्वावधान में आयोजित किसान मजदूर दिवस के मौके पर बोलते हुए कमलाकांत वर्मा ने कहा कि किसान तथा मजदूरों की एकता ही देश की सत्ता परिवर्तन करा सकता है। 19 जनवरी का दिन इतिहास के पन्नों में किसान मजदूरों की सहादत के रूप में दर्ज है। उन्होंने इतिहास की याद दिलाते हुए आंकड़े भी बताये। बैठक में कहा गया कि 7 फरवरी को किसानों की समस्याओं को लेकर तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन किया जायेगा। बैठक की अध्यक्षता कर रहे रमेश चन्द्र प्रजापति ने कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है तथा किसान अन्नदाता माना जाता है। इसके बाद भी किसान सबसे ज्यादा परेशानी है तथा आजादी के 7 दसक बाद भी आर्थिक तंगी की समस्या से जूझ रहा है। किसान नेता कुवंर सिंह ने बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस के नाम पर ली जा रही किसानों की कृषि भूमि के बदले मुआवजा के साथ परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाय। श्याम नारायण दोहरे ने किसानों को खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राशनकार्ड प्राथमिकता के आधार पर बनवाये जाय तथा खाद्यान्न व मिट्टी का तेल दिलाया जाय। इस मौके पर कमलेश कुमार, महेंद्र प्रताप सिंह, भारत पाल, पवन कुमार, बृजेश कुमार, शिवम कुमार, गोपाल जी, श्याम नारायण, रामपाल, रामगोपाल, माता प्रसाद शर्मा, रामबाबू, भदोले, प्रकाश आदि किसान उपस्थित थे।

Related posts

सरिया देने से किया इंकार तो महिला की कर दी मारपीट

newsindiaexpress

रास्ते में खड़ी बाइक हटाने को कहा तो कर दी मारपीट

newsindiaexpress

सी सी सड़क निर्माण में नाली न बनाए जाने की शिकायत उपजिलाधिकारी से

newsindiaexpress

1 comment

Leave a Comment