Home स्वस्थ रोजाना इस्तेमाल की चीजों में पाये जाते टॉयलेट सीट से भी अधिक घातक बैक्टीरिया, रहें सावधान
स्वस्थ - September 29, 2018

रोजाना इस्तेमाल की चीजों में पाये जाते टॉयलेट सीट से भी अधिक घातक बैक्टीरिया, रहें सावधान

नई दिल्‍ली । हम रोजाना अनजाने में कई ऐसी गलतियां करते है जो  हमारी सेहत पर भारी पड़ सकती हैं। खाना खाने से पहले हम हाथ धुलते है  लेकिन अगर खाते समय मोबाईल का  इस्तेमाल करते हैं तो आपके हाथ धुलने का कोई फायदा नहीं है। ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिन्हें छूने से पहले हमें बिल्कुल ध्यान नहीं आता कि इनमें घातक जर्म्स भी हो सकते हैं।
एक सामान्य फफूंद लगी ब्रेड से ज्यादा जर्म्स आपके बाथरूम में टंगे ब्रश होल्डर या वॉलेट में रखे नोट्स में हो सकते हैं। स्मार्टफोन पर टॉयलेट सीट से ज्यादा बैक्टीरिया पाए जाते हैं। जहां टॉयलेट सीट में बैक्टीरिया की 3 प्रजातियां पाई जाती हैं। वहीं, मोबाइल पर इनकी प्रजाति की संख्या 10 से 12 होती है। मोबाइल की स्क्रीन पर ई-कोलाइ और फीकल जैसे खतरनाक बैक्टीरिया पाए जाते हैं। ये जानलेवा जर्म्स हमें और आपको बीमार कर सकते हैं। इनसे बचने का तरीका यह है कि बस थोड़ा सावधान रहें और सतर्कता के साथ साफ-सफाई का ध्यान रखें।आइए आपको बताते हैं ऐसी सबसे गंदी और जर्म्स से भरी चीजें जिनका इस्तेमाल आप रोजाना करते हैं मगर इसके दुष्प्रभाव से अंजान रहते हैं।
इन चीजों से रहे सावधान
मोबाइल फोन पर आपकी टॉयलेट सीट से 10 गुना ज्यादा जर्म्स हो सकते हैं
क्या आपको पता है कि रिमोट कंट्रोल की बॉडी पर भी ढेर सारे वायरस और बैक्टीरिया होते हैं जो आपको बीमार बनाने के लिए काफी हैं।
आपके कंप्यूटर या लैपटॉप का की-बोर्ड भी आपको बीमार बना सकता है 
आपके वॉशरूम में मौजूद चीजों में सबसे ज्यादा जर्म्स ब्रश होल्डर या ब्रश पर होते हैं।
नोट को छूने से आपके हाथों में ये वायरस और बैक्टीरिया आ जाते हैं और फिर आपको बीमार बनाते हैं।
कई बार पर्स को आप दुकानों के काउंटर में, बाथरूम के स्टॉल्स पर या कार की सीट पर रख देते हैं जिससे ये बेहद गंदे हो जाते हैं।
सबके हाथों से होते हुए हजारों तरह के वायरस और बैक्टीरिया इस एटीएम मशीन की बॉडी और की-पैड पर मौजूद होते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

नई सोच और बेहतर परंपराओं को अपना रहे नई पीढ़ी के किशोर

0 कृष्णा ने अपने जन्म दिन पर गौवंश संरक्षण की दिशा में दिया संदेश सत्येन्द्र सिंह राजावत उ…