News India Express
ललितपुर

पिसनारी बाग ललितपुर तहसील की नाक के नीचे भू माफियाओं द्वारा खुलेआम गुंडागर्दी जमीनों पर कब्जा

 

पुराना रास्ता बंद मोहल्ले वासियों ने किया धरना प्रदर्शन

0अवैध कॉलोनी की जांच हो जिलाधिकारी से मांग

अभय प्रताप सिंह

ललितपुर। ललितपुर घंटा घर पर मोहल्ल पिसंनारी बाग वार्ड नंबर 13 के सैकड़ों ग्रामीणों ने घंटा घर पर धरना प्रदर्शन कर मोहल्ले में 100 वर्षों से चला आ रहा छोटी बाई नहर से गॉड बाबा के स्थान तक की रास्ता बंद किए जाने के उपलक्ष में धरना प्रदर्शन किया जिसमें ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि नगर के भू माफिया जमीन पर कब्जा कर रास्ता बंद कर रहे हैं जिसमें ग्रामीणों ने आरोप लगाए हैं कि सुरेश पुत्र रूप लाल कुशवाहा हल्के उर्फ रामस्वरूप पुत्र हरनारायण कुशवाहा निवासी पिसनारी भाग ललितपुर जिसमें इनका मुख्य सरगना राम चरण राठौर पुत्र रामदास राठौर निवासी रामनगर बताया गया है यह राठौर एक सरकारी विभाग में काफी भ्रष्टाचार में लिप्त रहा उसके बाद रिटायरमेंट के बाद यह जमीनों पर कब्जा करने कम जमीन खरीदने और ज्यादा पर कब्जा करने लोगों को फर्जी अंगूठे करा कर फर्जी स्टांप के आधार पर कब्जा करने का आदी है इसके द्वारा तहसीलदार की नाक के नीचे ललितपुर तहसील के नीचे करोड़ों की जमीन पर कब्जा कर रास्ता बंद किया जा रहा है और एक-दो मुस्लिम जाति के लोगों को साथ लेकर गुंडागर्दी व मारपीट पर आमादा हो जाता है इस प्रकार गुंडागर्दी कर रहे लोगों के पीछे इसी सरगना का हाथ है जिसके खिलाफ सैकड़ों ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन किया और जिलाधिकारी पुलिस अधीक्षक से मांग की परंतु कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से तहसीलदार के आश्वासन पर ग्रामीण अपना धरना प्रदर्शन खत्म करके चले गए परंतु अब तक रास्ता खुलवाया नहीं गया अवगत करा दें कि इसमें जो कॉलोनी काटी जा रही है अवैध तौर पर काटी जा रही है ना ही इसका लेआउट पास है ना ही सरकार में जिलाधिकारी क्या इसका कोई नक्शा दर्ज किया गया है ऐसी स्थिति में जिला अधिकारी के संज्ञान में मामला लाते हुए इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए और लाखों रुपए की जमीन चोरी कर स्टांप चोरी करते हैं सरकार के राजस्व की हानि पहुंचाते हैं इनकी जांच कराकर दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए उक्त मामले से प्रशासन अवगत हो।

Related posts

तेज गरज के साथ बारिश की फुहार, ओले भी गिरे, फसलों को नुकशान

newsindiaexpress

सीएम के आदेश पर भी समय से नहीं मिला वेतन

newsindiaexpress

राष्ट्रीय खेल दिवस पर आयोजित हुई रंगोली प्रतियोगिता मेजर ध्यानचंद को किया गया याद

newsindiaexpress