News India Express
उरई

निविदाओं के फर्जीबाड़े का खुलासा होते ही खुद की गर्दन बचाने में जुटे जिम्मेदार

0 अवकाश के दिन भी क्षेत्र पंचायत दफ्तर में होती रही फाइलों की अलटा पलटी

सत्येन्द्र सिंह राजावत
उरई (जालौन)। कदौरा विकासखंड के ग्रामीणांचल में कराये जाने वाले विकास कार्यों में निविदाओं के फर्जीबाड़े का खुलासा होने से जहां अब जिम्मेदार अधिकारी अपनी फंसती गर्दनों को बचाने की तैयारी करने में जुट गये है। यही कारण रहा कि अवकाश के दिन रविवार को क्षेत्र पंचायत दफ्तर में शत प्रतिशत अधिकारी व कर्मचारी पुरानी फाइलों की अलटा पलटी करने में व्यस्त रहे। फिलहाल तो अभी पुराने कार्यों की जांच की सुगबुगाहट शुरू होते ही जिम्मेदारों के माथे पर पसीना आना शुरू हो गया है।
उल्लेखनीय हो कि क्षेत्र पंचायत कार्यालय कदौरा द्वारा पिछले महीने में निकवायी गयी निविदाओं में कई ऐसे कार्यों की निविदायें प्रकाशित करायी गयी थी जो कार्य कई वर्ष पूर्व में कराये गये थे। जब उक्त मामले का संज्ञान मुख्य विकास अधिकारी डा. अभय कुमार श्रीवास्तव द्वारा गया और उन्होंने बीडीओ कदौरा अतिरंजन सिंह को दूरभाष के माध्यम से स्पष्ट रूप से कहा गया था कि सोमवार को वह सारे प्रकरणों के संबंधित कागजातों को लेकर उनके कार्यालय में उपस्थित होकर तथ्यों से अवगत करायें। इसी के बाद क्षेत्र पंचायत कार्यालय में हड़कंप मचना शुरू हो गया था और इसका नतीजा यह निकला कि रविवार के दिन अवकाश होने के बाद भी बीडीओ कार्यालय गुलजार रहा जहां पर आरईएस के साथ ही कार्यालय के सभी कर्मचारियों व ग्राम पंचायतों में तैनात पंचायत सचिव व ग्राम विकास अधिकारी इधर से उधर भागदौड़ करते देखे गयेे। तो दफ्तर में मौजूद कर्मचारी वर्षों पुरानी फाइलों जिन पर धूल धक्कड़ चढ़ी हुयी थी उनकी खोजबीन कर उनकी अलटा पलटी करने में व्यस्त बने रहे। कुल मिलाकर जिस तरह से क्षेत्र पंचायत कार्यालय द्वारा आनन फानन में पुराने कार्यों की निविदायें प्रकाशित कराकर करोड़ों रुपए के बजट को हजम करने की योजना तैयार की गयी थी उसका तो खुलासा हो गया। बीडीओ दफ्तर के सूत्रों ने तो यहां तक जानकारी दी है कि जिन पुरानी पुलियों की टीपाटापी करायी गयी थी उनका भुगतान भी निकाल दिये जाने की बात बतायी जा रही है। इस गंभीर मामले में जांच के उपरांत ही सारे तथ्यों का सही तरीके से खुलासा होगा और फिर भ्रष्टाचार की रकम डकारने वाले कितने जिम्मेदारों की गर्दन पर कार्यवाही तलवार गिरेगी यह तो समय ही बतायेगा। फिलहाल सारे प्रकरण के खुलासे के बाद क्षेत्र पंचायत कार्यालय में यही चर्चा कर्मचारियों व अधिकारियों के बीच चलती रहती है। इस मामले में यदि सही तरीके से जांच करायी जाये तो अनेकों ऐसे प्रकरणों का खुलासा होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।
फोटो परिचय—
ब्लाक कार्यालय में खड़ी गाड़ी।

Related posts

सैनिकों की सहायता हेतु कैंप का आयोजन 28-29 में

newsindiaexpress

43 पेटी अवैध शराब सहित दो गिरफ्तार

newsindiaexpress

पुलिस ने सकुशल बरामद किया गुमसुदा बालक

newsindiaexpress