Home जालौन चुनावी प्रक्रिया में बाधा डालने वालों को पुलिस ने दी चेतावनी

चुनावी प्रक्रिया में बाधा डालने वालों को पुलिस ने दी चेतावनी

21
0

0 डेढ़ दर्जन संवेदनशील, अतिसंवेदनशील गांवों का किया भ्रमण

अनुराग श्रीवास्तव के साथ बबलू सिंह सेंगर महिया खास

जालौन (उरई)। त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए एसडीएम व सीओ समेत कोतवाली पुलिस व पीएसी बल के जवानों ने ब्लाॅक क्षेत्र के संवेदनशील व अतिसंवेदनशील गांवों में जाकर पैदल मार्च किया। इस दौरान ग्रामीणों से शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव प्रक्रिया में भाग लेने की अपील की गई। वहीं, सैंकड़ों की संख्या में पुलिस के जवानों को गांवों के गलियों में देखकर ग्रामीण भौचक नजर आए। कौतूहल से महिलाएं और बच्चे छतों पर चढ़कर पुलिस के जवानों को देखते हुए नजर आए।
ब्लाॅक क्षेत्र की 62 ग्राम पंचायतों में डेढ़ दर्जन ग्राम पंचायतों को संवेदनशील और अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है। क्योंकि पूर्व में इन ग्राम पंचायतों में चुनावों के दौरान झगड़े हो चुके हैं। ऐसे में कोतवाली पुलिस के सामने इन ग्राम पंचायत में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराने की चुनौती है। वहीं, पुलिस भी इन गांवों में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराने के लिए तैयार है। इसी के चनले एसडीएम गुलाब सिंह, सीओ विजय आनंद के नेतृत्व में कोतवाल उदयभान वर्मा, इंस्पेक्टर क्राइम अनिल कुमार, एसएसआई आनंद सिंह समेत कोतवाली में तैनात सभी हल्का इंचार्ज व पुलिस फोर्स के साथ ही पीएसी बल के जवानों ने संवेदनशील व अतिसंवेदनशीन श्रेणी में आने वाले गांव सुढ़ार, सालाबाद, छिरिया सलेमपुर, सोनई परवई, औरेखी, सिकरीराजा, लहचूरा, धनौरा, धंतौली, दहगुवां, एदलपुर, पर्वतपुर व उरगांव में पैदल मार्च कर लोगों को सुरक्षा का अहसास कराया। अचानक सैंकड़ों की संख्या में गांव की गलियों में निकले पुलिस फोर्स को देखकर ग्रामीण सहमे नजर आए। इस दौरान एसडीएम व सीओ ने लोगों का आश्वस्त किया कि पुलिस उनकी सुरक्षा के लिए है। कोई समस्या होने पर उन्हें बताएं। पूर्व में जो भी स्थितियां रही हों, लेकिन इस बार चुनाव में किसी भी प्रकार की हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसलिए ग्रामीण शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव प्रक्रिया में भाग लें। कोई समस्या होने पर पुलिस की सहयता लें। कहा कि कोरोना को देखते हुए अधिक जरूरी होने पर ही मास्क पहनकर घर से बाहर निकलें। वहीं, पुलिस बल के जवानों के गांव में पहुंचने पर बच्चे व महिलाएं छतों पर चढ़कर कौतूहल से पुलिस के जवानों को देखते हुए नजर आए।
फोटो परिचय—-
अतिसंवेदनशील गांवों का भ्रमण करती पुलिस टीम।