Home जालौन कोरोना कफ्र्यू के दौरान भी दुकानदार निजी हितों की पूर्ति करने में...

कोरोना कफ्र्यू के दौरान भी दुकानदार निजी हितों की पूर्ति करने में जुटे

22
0

अनुराग श्रीवास्तव के साथ बबलू सिंह सेंगर महिया खास

जालौन (उरई)। कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। संक्रमण को रोकने के लिए सरकार सख्ती दिखा रही है तथा लाकडाउन जैसे कदम उठा रही है जिससे कोरोना चेन को तोड़ा जा सके। वहीं कुछ दुकानदार है जो अपने निजी हितों के आपदा की घड़ी में भी पैसा कमाने में लगे हुए हैं।
कोरोना संक्रमण को देखते हुए हुए तीन दिवसीय कफ्र्यू लगा हुआ है। शुक्रवार की रात से शुरू तथा मंगलवार की सुबह तक चलने वाले कफ्र्यू के दौरान भी दुकानदार चोरी छिपे अपनी दुकानों को खोल रहे हैं। पुलिस चैकी के पास डां साहनी वाली गली में शराब के ठेके के आसपास के दुकानदार अपने दुकानों के आसपास बैठे रहते हैं। ग्राहक के आते ही दुकानें खोल कर सामाने देने लगते हैं। मजे की बात तो है। इस दौरान उनके चेहरे पर न मास्क रहता है न शारीरिक दूरी। सब्जी मंडी, तकिया चैराहा पर लगातार दुकानदार बंदी का उल्लंघन कर रहे हैं तथा कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं कर रहे हैं। इसके बाद भी जिम्मेदार अनजान बने हुए हैं। जिन के कंधों पर बंदी को सफल बनाने व कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने की जिम्मेदारी है वह बंदी के दौरान सड़कों पर उतर कर हकीकत जानने तक की जहमत नहीं उठाते हैं।
फोटो परिचय—
बंदी के दिन दुकान खोल कर सामान देता दुकानदार।