Home Featured सरकार के प्रयासों को गैर सरकारी संगठन सफल बनाने में जुटे
Featured - उरई - 4 weeks ago

सरकार के प्रयासों को गैर सरकारी संगठन सफल बनाने में जुटे

0 महामारी से ज्यादा से ज्यादा जिंदगी बचाने के प्रयास

सत्येन्द्र सिंह राजावत
उरई (जालौन)। कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिये केन्द्र, राज्य सरकारें तथा प्रशासन अपने स्तर पर मुस्तैदी से कार्य कर रहा है। सरकार के इन प्रयासों को गैर सरकारी संगठन सफल बनाने में जुटे हैं जिससे देश में इस महामारी से ज्यादा से ज्यादा लोगों की जिंदगी बचायी जा सके इस संबंध में अनुरागिनी संस्था द्वारा आज कोरोना अवधि में सामाजिक संगठनों की भूमिका विषयक वर्चुअल संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमंे संस्था के अध्यक्ष डा. प्रवीण सिंह जादौन ने कहा कि कोविड-19 महामारी में सामाजिक संगठन गांव में आ रहे असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को कम से कम भोजन और अस्थाई रूप से आवास की व्यवस्था करने के कामों में सहयोग कर सकते हैं। ऐसा करके जहां एक ओर समाज के इस वर्ग की भोजन और रहने की समस्या का समाधान हो सकेगा वहीं कोरोनावायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये जरूरी ‘सामाजिक दूरी’ बनाये रखने के सरकार के प्रयासो को भी सफलता मिलेगी।
हाइकोर्ट लखनऊ के संयुक्त निबंधक कमलेश सिंह सेंगर ने युवा पीढ़ी से आग्रह करते हुए कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से लोगो में सकारात्मकता का संचार करे। अनुरागिनी संस्था पिछले कई महीनों से सोशल नेटवर्किंग साइट्स के माध्यम से लोगो को जागरूक करने का कार्य कर रही है, उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि संस्था का इस आभासी जागरूकता अभियान में सहयोग करें। सेवा भारती के क्षेत्र स्वावलंबन प्रमुख कृष्ण कुमार राव ने कहा कि सामाजिक कार्यकर्ता क्षेत्र में कार्य करते समय शासन की सोशल डिस्टैंसिंग की एडवाईजरी का पालन करें। स्वयं को सुरक्षित रखना भी अत्यंत आवश्यक है। इस विपदा की घड़ी में लोगों को जागरुक करने तथा घर पर ही रहने के लिए प्रेरित करने में शासन-प्रशासन का सहयोग करें। सहकार भारती उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के क्षेत्रीय संगठन मंत्री लक्षमण पात्रा ने कहा कि सामाजिक संगठनों की समाज को जागरूक करने में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। वर्तमान संकट को देखते हुए हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है कि हम सभी अपने स्तर पर अपने संसाधनों के माध्यम से आम जनों तक शासन के कोरोना रोकथाम संबंधी निर्देश को पहुंचाकर शासन के साथ सहयोग करने हेतु प्रेरित करें। यूएनडीपी जालौन के जिला विकास प्रबंधक अजय महतेले ने कहा कि कोरोना संकमण कालखंड में संक्रमण से सुरक्षित रहने, शासन सरकार से समय समय पर जारी निर्देशों मार्गदर्शन को समाज के प्रत्येक स्तर पर अनुपालन में, व्यवसाय और कारखानों की बन्दी के उपरांत अप्रवासी, श्रमिकांे की आजीविका हेतु अवसर एवं साधन संसाधनों की उपलब्धता, खाद्यान्न की उपलब्धता उनके आवास, निवास हेतु अस्थायी विकल्पों के चयन, कोविड संक्रमित व्यक्तियों को बेहतर उपचार, भोजन सामग्री प्राप्त कराने एवं स्वस्थ्य होने के उपरांत सामाजिक सुरक्षा एंव अवसाद की स्थितियों से बचाने, कोविड टीकाकरण के लिए लाभार्थियों को टीकाकरण के प्रति जागरूकता लाने में सामाजिक संस्थाओं का महत्वपूर्ण योगदान है ग्राम्य विकास संस्थान लखनऊ के सचिव भारत सिंह बिष्ट ने कहा कि सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से बेहतर सोशल नेटवर्क के जरिए अस्पतालों में एम्बुलेंस, वेन्टिलेटर और ऑक्सीजन की उपलब्धता बढ़ाने में मदद मिल सकती है। अनुरागिनी संस्था द्वारा आयोजित संगोष्ठी के दौरान सामाजिक संगठनों की समाज में कोरोना संकट के दौरान जनभागीदारी की भावना को मजबूत करने एवं विभागीय सहयोग करने में उनकी अहम भूमिका पर सहमति बनी।

Check Also

नई सोच और बेहतर परंपराओं को अपना रहे नई पीढ़ी के किशोर

0 कृष्णा ने अपने जन्म दिन पर गौवंश संरक्षण की दिशा में दिया संदेश सत्येन्द्र सिंह राजावत उ…