Home जालौन 62 ग्राम पंचायतों में केवल दस प्रधान ही ले पायेंगे शपथ
जालौन - May 23, 2021

62 ग्राम पंचायतों में केवल दस प्रधान ही ले पायेंगे शपथ

अनुराग श्रीवास्तव के साथ बबलू सिंह सेंगर महिया खास

जालौन (उरई)। प्रधानी के चुनाव में जी-जान लगाकर जीत दर्ज कराने के बाद भी ब्लाॅक क्षेत्र की 62 ग्राम पंचायतों में अधिकांश ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत सदस्यों का कोरम पूरा न होने के चलते प्रधान शपथ नहीं ले सकेंगे। 62 ग्राम पंचायतों में फिलहाल 10 ग्राम पंचायतों के प्रधान ही शपथ ले सकेंगे। शेष ग्राम पंचायतों के प्रधानों का शपथ ग्रहण कोरम पूरा होने के बाद में ही कराया जा सकेगा।
जालौन ब्लाॅक क्षेत्र की 11 न्याय पंचायतों में 62 ग्राम पंचायत हैं। 2 मई को मतगणना के बाद इन सभी ग्राम पंचायतों में प्रधानों की तो घोषणा कर दी गई। लेकिन 62 ग्राम पंचायतों में 742 ग्राम पंचायत सदस्यों में मात्र 10 ग्राम पंचायतों में ही ग्राम पंचायत सदस्यों का कोरम पूरा हो सका है। ब्लाॅक क्षेत्र में लगभग 600 से अधिक ग्राम पंचायत सदस्यों के पद खाली पड़े हैं। पंचायत के लिए शपथ ग्रहण का समय 25 मई तय किया गया है। ऐसे में उन 10 ग्राम पंचायतों में तो नवनिर्वाचित प्रधान शपथ ग्रहण कर अपना कार्यभार संभाल लेंगे, जहां ग्राम पंचायत सदस्यों को कोरम पूरा हो चुका है। शेष 52 ग्राम पंचायतों में चुने हुए प्रधान शपथ ग्रहण नहीं कर सकेंगे। उन्हें अपना कार्यभार ग्रहण करने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। इस संदर्भ में बीडीओ महिमा विद्यार्थी ने बताया कि इस बार कोरोना महामारी के चलते जिलाधिकारी द्वारा आॅनलाइन माध्यम से नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों को शपथ ग्रहण कराई जाएगी। बताया कि जिन ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत सदस्यों का कोरम पूरा नहीं है। वहां दोबारा से चुनाव कराया जाएगा। इसके लिए निर्वाचन आयोग की ओर से एक चुनाव से दूसरे चुनाव के बीच 6 महीने का समय दिया जाता है। अप्रैल में पंचायत चुनाव संपन्न हुए थे तो अक्टूबर माह तक सभी पदों पर चुनाव कराकर शेष प्रधानों का शपथ ग्रहण कराया जा सकता है। एडीओ पंचायत महेश पाल ने बताया कि नियमानुसार आधे से अधिक सदस्यों के होने पर ही प्रधान का शपथ ग्रहण हो सकता है। ऐसे में कुल संख्या का आधे से एक अधिक होने पर भी प्रधान शपथ ले सकते हैं। 52 ग्राम सभाएं ऐसी हैं जहां यह नियम पूरा नहीं हो पा रहा है। ऐसे में सिर्फ धनौरा, काशीपुरा, नगरी, इटहिया, छिरिया सलेमपुर, औरेखी, कुठौंदा बुजुर्ग, उरगांव समेत 10 ग्राम पंचायतों के नवनिर्वाचित प्रधान ही इस बार शपथ ग्रहण कर सकेंगे।

Check Also

वीरांगना फूलन देवी के शहादत दिवस मे उनके पैतृक गांव पहुंचे राज्यसभा सांसद विशम्भर निषाद

  0 वीरांगना फूलन देवी की प्रतिमा मे पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी, महर्षि वेदव्यास …