News India Express
देश विदेश

राम मंदिर बनाने के लिए संत समाज ने भरी हुंकार

नई दिल्ली । संत समाज ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए सरकार पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है। इस सिलसिले में तीन और चार नवंबर को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में देश भर से संतों की बैठक बुलाई गई है। बैठक की जानकारी देते हुए अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री स्वामी जीतेंद्रानन्द सरस्वती ने कहा की सुप्रीम कोर्ट अयोध्या मामले की सुनवाई में जानबूझकर देरी कर रहा है।
स्वामी जीतेंद्रानन्द सरस्वती ने कहा कि 2017 में कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट की  बहस में कह दिया था कि अयोध्या मामले की सुनवाई 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद होने चाहिए। सरस्वती के अनुसार मुस्लिम पक्षकारों की ओर से पेश से हुए सिब्बल के इस वक्तव्य के पीछे बड़ी साजिश के संकेत थे।और अब सुप्रीम कोर्ट ने भी मामले की सुनवाई जनवरी तक टाल दी है । स्वामी जीतेंद्रानन्द सरस्वती ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई से जिन तर्को के साथ इनकार किया है, वह संदेह जनक है सुप्रीम कोर्ट के लिए अयोध्या मामले से ज्यादा जरुरी क्या है जबकी अयोध्या मामला सैंकड़ों सालों से दो समुदायों के बीच झगड़े के कारण बना हुआ है । सरकार को अध्यादेश लाकर भव्य राम मंदिर निर्माण का रास्ता तत्काल साफ करना होगा।
सरस्वती ने बताया कि तीन और चार नवंबर को संत के महासम्मेलन में राममंदिर समेत हिंदू समाज से तमाम मुद्दों पर विचार किया जाएगा। इसमें संत समाज इन मुद्दों पर आगे की रणनीति तय करेगा।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट ने मनोज तिवारी को लगाई फटकार

newsindiaexpress

आसाराम की सहयोगी शिल्‍पी को हाईकोर्ट ने दी जमानत

newsindiaexpress

उपभोक्ताओं को मिलेगी पैट्रोल डीजल में 2.50 रुपये की राहत :अरुण जेटली

newsindiaexpress

Leave a Comment